मामी को देख के नंगा मेरा लंड हुआ लम्बा

हॉट इंडियन मामी सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं छुट्टियों में नाना के घर घर गया तो एक दिन बाथरूम में मामी को नंगी नहाती देखा तो मैं मामी की चूत लेने की सोचने लगा नमस्कार मेरे वाचक दोस्तो, मेरा नाम अमित है और मेरी उम्र 22 साल है।

मेरा कद 5 फुट 6 इंच है, मेरे लन्ड का साइज 7 इंच है यह मेरी पहली कहानी है तो मुझसे कोई गलती हो जाए तो माफ कर देना मुझे इन सब बातों में पहले से इंटरेस्ट था पर किसी के साथ किया नहीं था।

यह मेरी सच्ची हॉट इंडियन मामी सेक्स कहानी उस वक्त की है जब मैं 19 साल का था वैसे मैं खुले विचारों का इंसान हूं और तो और मैं बचपन से छुट्टियों में मेरे नानी के घर 2 महीने रहने जाता था।

मामी को देख के नंगा मेरा लंड हुआ लम्बा

स्कूल टीचर के साथ चुदाई की मस्ती-Teacher Sex Story

उनके घर में दो बेडरूम हैं तो किसी को कोई परेशानी नहीं होती उस वक्त नानी के घर में मेरे 2 मामा 1 मौसी थी पर कुछ साल बाद मेरे दोनों मामा और मौसी की शादियां हो गई मेरी मौसी ससुराल चली गई और बड़े मामा अलग होकर दूसरे शहर चले गए।

अब मेरे नानी के घर मैं सिर्फ बड़े मामा और उनकी पत्नी रहती थी उनका नाम सोनल था मामी का फिगर 34-28-32 है उसी के साथ साथ वे एक खूबसूरती की मूर्त हैं वे पहले से ही खुले विचार और अच्छे स्वभाव वाली स्त्री थी।

उनकी शादी अप्रैल में हुई तो उस वक्त मैं नानी के घर ही था तो कुछ दिन मैं ही मेरी उनसे अच्छी दोस्ती हो गई अब वे जब भी जॉब से आती तो मेरे लिए कुछ न कुछ लेकर आती वैसे मैं बता दूँ कि मेरे मामा फ्रांस के कंपनी में जॉब करते थे तो उनकी हमेशा नाइट शिफ्ट रहती थी।

तो उस वजह से मामी को वैवाहिक सुख नहीं मिल रहा था अब वो समय आ गया जब इस कहानी को असली मोड़ आने वाला था मैं अगले साल फिरसे नानी के घर गया अगले साल मामी और ज्यादा हॉट और सेक्सी लग रही थी।

उनके बूब्स और से पहले से ज्यादा बड़े और अच्छे हो गए थे जब वे नाइटी पहन कर बाहर आती थी तो उनका फिगर और निखर जाता था एक दिन मैं सुबह 6:30 पर उठ गया क्योंकि मुझे पेशाब करने जाना था।

घर में देखा तो कोई नहीं था क्योंकि नानी रोज सुबह 1:30 घंटे सैर पर जाती थी और मामा ऑफिस से 10 बजे आते थे बाद में मैंने बाथरूम में देखा तो मामी थी घर में कोई नहीं था इसलिए मौका अच्छा था।

तो मैंने दरवाजे के छेद से देखा तो मामी पूरी नंगी थी और अपने बदन को साबुन लगा रही थी वहाँ से सिर्फ उनकी चूत दिख रही थी कुछ देर बाद वे पैरों को साबुन लगाने झुकी तो उनके मम्मे लटक रहे थे और एक दूसरे से टकरा रहे थे।

मामी उस पोजीशन में बहुत सेक्सी लग रही थी फिर मामी का नहाना हो गया और वे नीचे बैठ गई और अपनी चूत मैं उंगली डालने लगी क्योंकि उन्हें कई महीनों से यौन सुख नहीं मिला था 10 मिनट तक उंगली करने के बाद।

वे जैसे उठने लगी तो उन्होंने मुझे देख लिया और जल्दी जल्दी कपड़े पहन कर बाहर आई और मुझे पूछने लगी कि मैं बाहर क्या कर रहा था मुझे पहले डर लगा पर कुछ क्षण बाद मुझे अहसास हुआ कि उन्हें अगर डांटना होता तो बाथरूम से ही चिल्लाती।
और तभी मैंने देखा कि वे सवाल पूछते समय हल्की सी मुस्कुरा रही थी यह देखते ही मैं आत्मविश्वास के सातवें आसमान को छू रहा हूं, ऐसा लग रहा था फिर मैंने कहा- मुझे पेशाब जाना था इसलिए इंतजार कर रहा था आपके बाहर आने का।

यह कहते ही उन्होंने कहा- अच्छा ठीक है, मैं आ गयी. अब तुम जा सकते हो फिर मैंने अंदर गया और 15 मिनट तक, मामी को चोद रहा हूँ, यह सोचकर मुठ मारी और मलाई निकाली कुछ देर बाद नानी भी घर आ गई।

और मुझे इतनी जल्दी उठा देख वे चौंक गई क्योंकि मुझे इतनी जल्दी उठने की आदत नहीं थी फिर मामी बोली- इसकी नींद तो मैंने उड़ाई है यह सुनते ही मैं मामी की तरफ देखने लगा नानी ने कहा- मतलब क्या कहना चाहती हो।

मामी बोली- कुछ नहीं मेरे शोर से ये उठ गया है मैं अभी भी चकित होकर मामी के तरफ देख रहा था क्योंकि मुझे समझ नहीं आ रहा था कि क्या हो रहा है फिर मामी काम पे जाने के लिए निकलने लगी तो मुझे हल्की मुस्कान दी और मेरे पास आकर मेरे लन्ड को पकड़ लिया और दबाने लगी।

मेरा लन्ड पकड़ने से तुरंत मेरे शरीर में चींटियाँ दौड़ गई हैं, ऐसा लगा यह सिलसिला कुछ 10-15 सेकंड चला फिर मामी जाते वक्त धीमी आवाज में बोली- रात को मेरा इंतजार करना मैंने भी सर हिलाते हुए हामी भरी।

मामी के काम पे जाने के बाद मेरा तो मन ही नहीं लगा रहा था किसी भी चीज में जैसे तैसे शाम के 8 बजे मामी घर आ गई मैं तो उनके आने का इंतजार कर रहा था तो जैसे ही वे आई, मैं दरवाजे तक गया, मैं और मामी एक दूसरे के आखों में देख रहे थे।

कुछ देर बाद हम दोनों नॉर्मल हो गए चूंकि मामी रोज मेरे लिए कुछ न कुछ लेकर आती तो मैंने पूछा- मामी, आज क्या लाई हो मामी मुझे अंदर कमरे में लेकर गई और मुझे बोली- अपनी आंखें बंद करो और अपना एक हाथ आगे करो।

मैं- पर क्यों ऐसा क्या लाई हो पहले मुझे बताओ फिर ही मैं आंखें बंद करूंगा मामी- नहीं मैं नहीं बताऊंगी तुम आंखें बंद तो करो ना फिर मैंने आंखें बंद की और अपना एक हाथ आगे बढ़ाया मामी ने मेरे हाथ पर कुछ चॉकलेट जैसा रखा।

मैंने जैसे ही अपनी आंखें खोली तो मामी ने मेरे हाथ में कॉन्डम के 2-3 पैकेट रखे थे उन्हें देखते ही मेरा लन्ड का भाला बन गया था जो मामी की चूत में जाने के लिए तड़प रहा था फिर मामी बोली- किसी को इस बारे में पता नहीं चलना चाहिए।

यह रिश्ता हम दोनों के बीच ही रहेगा ठीक है मैं- ठीक है मामी मैं इस बारे में किसी कुछ पता नहीं चलने दूंगा लेकिन मुझे यह बताइए कि सुबह मैं आपको देख रहा हूँ यह बात पता थी आपको मामी- हाँ पता थी जब मैं साबुन लगाने नीचे झुकी तभी देख लिया था।

मामी को देख के नंगा मेरा लंड हुआ लम्बा

जीजा है खिलाडी मेरी चूत फाड़ी-Jija Sali Sex Story

और उसी के बाद मैंने अपनी चूत में उंगली डालना शुरू किया ताकि तुम भी उत्तेजित हो सको ठीक है चलो जल्दी बाहर वरना नानी को शक हो सकता है फिर हम दोनों बाहर आ गए मामी हाथ पैर धोने गई।

उसके बाद हमने कुछ देर टीवी देखा और खाना खाने चले गए 10 बजे तक खाना खाकर हम फिर से टीवी देखने बैठ गए टीवी देखते समय हमने बत्तियां बुझा दी थी जिससे पूरे कमरे में सिर्फ टीवी की रोशनी थी।

अब हॉट इंडियन मामी सेक्स का समय आ गया था इस चीज का फायदा उठा के मैं और मामी एक दूसरे को वहीं पे किस करने लगे थे किस करते समय मैंने मामी की नाइटी के अंदर हाथ डाला और चूत को सहलाने लगा।

सहलाते सहलाते मैंने उनकी चूत के अंदर उंगलियां भी डाल दी उससे मामी को मजे आ रहे थे कुछ देर बाद हम दोनों सेक्स के लिए तड़प रहे थे क्योंकि नानी को सुबह 6 बजे से पहले उठना होता था तो नानी रात को दस साढ़े दस बजे सो जाती थी।

हम दोनों इसी का इंतजार कर रहे थे कि कब नानी सो जाए और हम अपनी चुदाई शुरू कर सकें नानी के सोते ही मैं और मामी उनके कमरे मैं चले गए क्योंकि नानी सोते वक्त खर्राटे लेती थी तो मैंने नानी को कहा था- आपके खर्राटों से मुझे नींद नहीं आती तो मैं रोज मामी के कमरे मैं सोऊंगा।

तो मुझे नानी का भी कोई डर नहीं था कमरे में जाते ही मैंने मामी को बेड पे लिटा दिया और उनके ऊपर चढ़ कर (मशीनरी पोज में) उन्हें किस करने लगा शुरुआत माथे से करते करते ओठों तक आ गया।

हमारी किस लगभग 20 मिनट तक चली किस करते समय मैं मामी के चूचे दबा रहा था उनके चूचे इतने बड़े थे कि मेरे हाथ में भी नहीं आ रहे थे फिर भी मैं अपने दोनों हाथों से उनके दोनों मम्मे को दो साइड से पकड़कर एक दूसरे के तरफ धकेल के दबाने लगा।

तो इस वजह से मामी को जरा दर्द होने लगा पर उन्हें मजा भी आ रहा था तो भी मेरा साथ दे रही थी धीरे धीरे हम दोनों एक दूसरे के कपड़े उतारने लगे मामी के कपड़े उतारने में मुझे कोई दिक्कत नहीं हुई क्योंकि मामी ने अंदर ना ब्रा पहनी थी और नहीं चड्डी वे अंदर से पूरी नंगी थी।

थोड़ी देर बाद मामी ने बैग में से कॉन्डम निकाले और मुझे पहनने को कहा पर मैंने मना कर दिया और बोला- नहीं, मैं बिना कॉन्डम के सेक्स करूंगा, बिना कॉन्डम के ज्यादा मजा आयेगा मामी पहले सोच में पड़ गई पर बाद में मान गई।

शुरुआत हमने 69 वाले पोज से की मामी की चूत बहुत गोरी और चिकनी थी, उनकी चूत में से अलग ही खुशबू आ रही थी जैसे कस्तूरी हिरण के नाभि में से आती है मैं मामी की चूत और मामी मेरा लन्ड चूसते चाटते 20 मिनट हो गए और उसमें मामी एक बार में झड़ चुकी थी।

फिर हमने पोज बदल दिया अब मैं पलंग पे बैठ गया और मेरे ऊपर मामी बैठ गई और मेरा लन्ड अपने चूत में डालने की कोशिश करने लगी पर लन्ड चूत में जाने की बजाए गांड में चला गया उससे मामी को बहुत दर्द हुआ और वे चिल्ला उठी।

मैंने तुरंत मामी का मुंह बंद कर दिया पर मुझे डर था कि कहीं यह आवाज नानी ने सुन तो नहीं ली हमने अगले 2 मिनट तक कोई हलचल नहीं की मैंने फिर मेरा लन्ड पकड़ के मामी की चूत में घुसा दिया मेरा आधा लन्ड अन्दर जाने से मामी को फिर दर्द हुआ।

पर उतना नहीं जितना गांड में जाने के बाद हुआ था मैंने मामी के अंदर अपना पूरा लन्ड डाल दिया. पर इस बार किस करते हुए डाला जिससे मामी का ध्यान किस में ज्यादा था तो लन्ड और चूत का दर्द वे भूल चुकी थी।

कुछ देर बाद हमने किस करना बंद किया और मुख्य चीज पर ध्यान दिया जो थी चूत उनकी चूत इतनी मुलायम थी कि मैं बता नहीं सकता मामी ने 7 इंच का लन्ड पहली बार अपनी चूत में लिया था तो उन्हें मजा भी बहुत आ रहा था।

मामी को देख के नंगा मेरा लंड हुआ लम्बा

भाभी की चूत में दिया मोटा लंड-Bhabhi ki Chudai

वे बोल रही थी- अमित, तेरा जितना लंबा लन्ड तो तेरे मामा का भी नहीं है यह सुनकर मैं और उत्तेजित हो गया और मैं धक्के की रफ्तार बढ़ाता गया जिससे मामी की सिसकारियां निकल रही थी- आआ ह्हह आह्ह अमित उह्ह हम्मम्म मआआ आह उम्मम्म और तेज और तेज और तेज करते जाओ।

मेरी चूत का रसपान कर लो आह्ह्ह और कुछ देर में मामी दूसरी बार झड़ गई उतने में मेरा भी चिक (स्पर्म) निकल गया था मैंने पहले मामी का चिक का रसपान किया और फिर मेरा चिक मामी के गालों और मुख में डाल दिया।

वे सारा चिक पी गई अब हम कुछ देर तक ऐसे ही एक दूसरे पकड़ के लेटे रहे उस रात हमने 3 बार चोदाई की तो दोस्तो, यह थी मेरी पहली सेक्स की कथा मेरी हॉट इंडियन मामी सेक्स कहानी पढ़ने के लिए धन्यवाद।

 

By tharki

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *